INDIA Blogger

Wednesday, April 8, 2009

जूते का टेंपो हाई है ...........

जूते का टेंपो हाई है ......................
कल एक अजब घटना घटी । मेरे कैमरे ने बताया की अब अगले साल से राष्ट्रीय जूता दिवस मनाया जाएगा .......मैंने पुछा क्यों तो वो बोला समाचार नही देखते हो क्या ....क्यों ऐसा क्या हुआ वो बोला अरे गृहमत्री श्री पी चीदाम्बरम जी पर एक प्रेस कांफ्रींस में दैनिक जागरण के रिपोर्टर जरनैल सिंह ने अपने जूते से वार कर दिया वो बाल बाल बच गए ....और उन्हूने उसे माफ़ कर दिया । अब मेरे तरह ही कुछ संस्थाए इस दिन को जूता दिवस के नाम कर देना चाहती है । .................
चलिए ये तो हो गयी मेरे कैमरे की बात पर आप प्रबुध्ज्नो का क्या कहना है इस घटना क्रम पर...ये कोई बहादुरी की बात नही है की आप किसे पर जूता चलाये ......कल जिस रिपोर्टर ने जार्ज बुश पे हुए जूते के हमले की नींदा का समाचार अपने अखबार में छापा था आज उसी ने ऐसा क्यों किया ....
क्या इस जूते ने हमारे संसकृति पर चोट नही लगायी है....क्या हमारे देश का नाम बदनाम नहीं हुआ होगा ...क्या न्याय पाने का यह तरीका सही है .......क्या इस घिनौने कृत्य से भारत माँ को तकलीफ नही हुई होगी .......सोचिये कल जो हुआ उसके लिए कौन दोषी है..................
वरना वो दिन दूर नही जब मेरे कैमरे की बात सच हो जाए और हम को जूता दिवस मनाना पड़े ........

2 comments:

डॉ. मनोज मिश्र said...

समकालीन दौर में बहुत कुछ मनेगा .

Harsh said...

jute par bahut achcha likha hai... shukria is sundar post ke liye...